Masturbation side effects and benefits 

Masturbation - हस्तमैथुन

हस्तमैथुन क्या है? 
आज जो टॉपिक मै कवर कर रहा हूं वह हैं आपका सेक्स और मास्टरबेशन के ऊपर,   क्या सेक्स और मास्टरबेशन आपके Muscle building या  fat loss goal के लिए खराब है या ज्यादा Sex मास्टरबेट (हस्त मैथुन) करने से आपके मसल लॉस होता है?
तो आज हम  जानने की कोशिश करते हैं उसको डिटेल में सही तरीके सेतो आज हम इस टॉपिक को दो कैटेगरी के लोगों के लिए एनालाइज करेंगे
Masturbation side effects and benefits

1) वह लोग जो रेगुलर इंसान है जो ज्यादा gym नहीं करते ज्यादा एक्सरसाइज नहीं करते और एक नॉर्मल जिंदगी जीते हैं जिनका गोल सिर्फ लीन (lean, दुबला) रहना है एक हेल्थी लाइफस्टाइल अचीव करना चाहते हैं .
2) और दूसरे जो एक competitive athlete  हैं बॉडीबिल्डर है या जिनका गोल एक सही Muscle size conditioning को gain करना है और बहुत सारे बड़े गोल है,तो दोनों category  के लिए आज हम इस टॉपिक को एनालाइज करेंगे उसमें आप लोगों को एक जानकारी बताता हूं कि सेक्स और मास्टरबेशन या कोई भी सेक्सुअल एक्टिविटी बहुत ही नेचुरल सी चीज होती है और इस दुनिया की सबसे powerful energy  है, वो है sexual energy, पूरा प्लैनेट्स, पूरी यूनिवर्स, एनिमल्स, Human being created be the sexual energy  हम इसी से बने हुए हैं सृष्टि की शुरुआत ही sexual energy  से हुई है अर्धनारीश्वर, शिव और शक्ति, पॉजिटिव- नेगेटिव जब दो ऑपोजिट्स लोग मिलते हैं They  क्रिएट्स ए न्यू लाइफ, दिन रात, सुबह शाम हर चीज पॉजिटिव नेगेटिव, नॉर्थ पोल -साउथ पोल शिफ्टिंग मोस्ट डायनामिक एंड पापुलैरिटी इन द यूनिवर्स . 
जब आप सेक्स करते हैं मास्टरबेट  करते हैं तो आपकी बॉडी में sexual एनर्जी जनरेट होती है, क्रिएट होती है, डेवलप होती है, तब उसके बाद जब आप डिस्चार्ज होते हैं तो जो आपकी सेक्सुअल टेंशन क्रिएट होती है बॉडी में वह रिलीज होती है, आपकी बॉडी से sexual टेंशन रिलीज होती है. आप रिलैक्स महसूस करते हैं और यह बहुत जरूरी है आपकी उस sexual  टेंशन को आप अपनी बॉडी से रिलीज करें अन्यथा आपके मसल्स पेन रहेंगे आप फिजिकली मेंटली दोनों रूप से आप टेंश रहेगे, आपके Muscle आपके face muscle आपके पैक्स आपके every muscle टाइट रहेगे. जो मसल्स बिल्डिंग के लिए बॉडी बिल्डिंग के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है क्यों ?” क्योंकि आपके muscle टाइट होते हैं तो आप breath (श्वास) करने में आपको प्रॉब्लम होती है, आप breath नहीं कर पाएंगे आपके मसल्स टाइट होने की वजह से उनको रूम नहीं मिलेगा grow करने का तो यह सेक्सुअल टेंशन इट्स नॉट गुड फॉर योर बॉडी सेक्स विद योर पार्टनर, और मास्टरबेट किसी भी रुप मे sexual energy को,सेक्सुअल टेंशन को अपनी बॉडी से रिलीज करें .
Masturbation side effects and benefits

सेक्स करना कितना इंपॉर्टेंट है कितना जरूरी है आपकेBody से sexual tension को release करना ,अब हम specifically बात करते हैं सेक्स और मसल बिल्डिंग कि, जब हम सेक्स और muscles बिल्डिंग की बात करते हैं तो जो सबसे पहला नाम आता है जिस हार्मोन का वह टेस्टोस्टरॉन, टेस्टोस्टरॉन एक मेल प्रिंसिपल हार्मोन होता है जिसके ऊपर बहुत सारी चीजें डिपेंड करती हैं जैसे आपका स्पर्म काउंट आपका libido यानी कि sex drive आपकी ओवरऑल मसल ग्रोथ आपका, आपकी बोन डेंसिटी हर चीज एक male के लिए टेस्टोस्टरॉन बहुत ही जरूरी है और एक हेल्दी मेल में इतनी कैपेबिलिटी होती है कि वह enough टेस्टोस्टरॉन को प्रड्यूस कर पाए बॉडी के अंदर ताकि वह सब काम करने के लिए काफी हो.
आज हम दो चीजों की बात करेंगे specifically सेक्स और मसल बिल्डिंग कि वह दोनों टेस्टोस्टरॉन से रिलेटेड होते हैं.
अब मैं आपको बताता हूं कि हमारी बॉडी की priority लिस्ट क्या होती है और बॉडी कैसे फंक्शन करती हैं?
सेंट्रल नर्वस सिस्टम यह आपकी बॉडी का पावर इंजन है यह आपका एनर्जी का स्रोत है यहीं से सारी पावर जनरेट होती है और पूरी बॉडी में डिसटीब्यूट होती है. आपकी स्पाइनल (spinal) कॉर्ड (cord) और peripheral  नर्वस सिस्टम के साथ आपका नर्वस सिस्टम, सेंट्रल नर्वस सिस्टम हर बॉडी के muscles और organs  से जुड़ा होता है और यही से सारी signalling होती है कि हाथ उठाओ, पैर चलाओ, मुंडी घुमाओ हर चीज यहां से होती है. आपकी सारी signalling यही होती है. 
एक जिंदा इंसान और एक मरे हुए इंसान में सिर्फ एक ही फर्क होता है मुर्दा इंसान सांस नहीं लेता, जो हमारे सेंट्रल नर्वस सिस्टम होता है हमारी बॉडी को फंक्शन करने के लिए सबसे पहले उसकी breathing पर ध्यान देता है सबसे पहली  priority है कि हमारी बॉडी सांस लेते रहे अच्छी तरह से दूसरी चीज होती है आपकी mastication,
Mastication मतलब होता है chew करना या चबाना आपका ये जो  जबड़ा  है यह ढंग से काम करना चाहिए ताकि आप सरवाइव कर सके आप खाना खा सके उसे चबा सके डाइजेस्ट कर सकें और न्यूट्रींस आपकी बॉडी को मिले तीसरी priority  होती है विजन, हमारी सेंट्रल नर्वस सिस्टम की चौथी priority  होती है हेयरिंग हम सही-सही सुन सकें अगर कोई खतरा है हमें कोई अटैक करने वाला है या कोई भी प्रॉब्लम है हमारी hearing  एकदम बिल्कुल सही होना चाहिए तो यह चार main priority है  हमारी सेंट्रल नर्वस सिस्टम की सबसे पहले बॉडी इस पर ध्यान देगी उसके बाद आते हैं आपके और आपके heart, किडनी यह सब ढंग से फंक्शन कर रहा है कि नहीं आपके लिम्स वगैरा तो इन सब चीजों के बाद ही priority आती है,  उसके बाद कहीं जाकर आती आती है रिप्रोडक्शन सिस्टम (Reproduction system).
अगर आपने 10th मे  रिप्रोडक्शन सिस्टम read किया हो साइंस में तो आपको यह पता चलेगा कि सेक्स करने का मतलब सिर्फ आपका sperm को इजेकुलेट करना नहीं होता है सेक्स करने मे बहुत सारी एक्टिविटीज होती हैं सेक्सुअल अराउजल ठीक होना चाहिए आपकी इरेक्शन ठीक होना चाहिए आपका सही hard on  होना चाहिए तब जाकर आपकी सेक्सुअल एक्टिविटी कंप्लीट होती है आपका रिप्रोडक्शन प्रोसेस कंप्लीट होता है और आपका (टेस्टोस्टरॉन लेवल आफ लिबिडो) सेक्स ड्राइव कैसी है और यह सिर्फ एक हेल्थी मेल में ही होगा तो आपको अपने टेस्टोस्टरॉन लेवल का ध्यान तो रखना पड़ेगा अगर आप रिप्रोडक्शन प्रोसेस को ढंग से करना चाहते हैं आपको यह बात जानकर इतनी हैरानी होगी की muscles building ह्मारे body कि last priority मे आते है मतलब रिप्रोडक्शन सिस्टम से भी बहुत नीचे मतलब बॉडी बच्चे पैदा पहले करने जाएगी मसल बिल्डिंग तो फिर बहुत दूर की बात है लेकिन हम तो है जिद्दि लोग हम बॉडी को ट्रिक करते हैं कि नहीं सब कुछ ठीक चल रहा है हमारा टेस्टोस्टरॉन लेवल हाई है हर चीज ह्मारी सही चल रही है हमारी सारी सेंसेज हमारे ऑर्गन सब कुछ ढंग का काम कर रहा है lets build muscles. 


Does excessive Masturbation have health risks?

हम अपनी बॉडी को एक ऐसा माहौल क्रिएट करके देते हैं  कि everything is working  fine , by providing good nutrition, by providing good exercise तो हम trick करते है  body को muscles बनाने के लिये  body कि priority muscles build नही करना है, body चहाती है survive करना reproduce करना .. अब मैं खुलासा करता हूं सच्चाई का तो जैसा मैंने आपको बताया कि बॉडी के लिए muscles build करना important नहीं होता है जितना रिप्रोडक्शन करना और सेक्स और मास्टरबेट करना ज्यादा इंपोर्टेंट है बॉडी के लिए तो सेक्स और मास्टरबेशन आपकी बॉडी के टेस्टोस्टरॉन लेवल को ड्रॉप नहीं करता बल्कि और boost करता है a good sex gives body rebound ताकि वह अपनी बॉडी में टेस्टोस्टेरोन लेवल को बढ़ा सके प्रोडक्शन बढ़ा सकें आपकी बॉडी में आपके serotonin और dopamine जैसे हैप्पी हार्मोन सीक्रेट होते हैं कॉर्टिसोल लेवल आपका ड्रॉप होता है स्ट्रेस हॉरमोन आपका कम होता है तो its you can do your बॉडी आपकी सेंट्रल नर्वस सिस्टम को ही सिग्नल जाता है this man happy, this man UN healthy,  रिजल्टिंग more टेस्टोस्टरॉन लेवल और more reप्रोडक्शन इन द बॉडी तो यह बेनिफिट करता है. सेक्स करना है वो गुड सेक्स लाइव आपको बेनिफिट करता है कि आपका टेस्टोस्टरॉन लेवल बढ़ाने में ना कि  कम करने में  समझने वाली बात यह है कि जब आपका इजैक्लेशन होता है आपका जो seamen निकलता है उसमें सारे का सारा स्पर्म थोड़ी होता है this ऑल वॉटर एंड वेयर इट is sperm, बॉडी पूरा का पूरा tank  थोड़ी खाली कर देती है. जो आपके टेस्टोस्टरॉन लेवल ड्रॉप हो जाएंगे और सारा का सारा बॉडी testosterone बनाने में लग जाएगा ऐसा नहीं होता Testosterone का और भी काम होता है कि muscle का बनाना  बोन डेंसिटी का ध्यान रखना बहुत सारी चीजों पर ध्यान रखता है और enough होता है टेस्टोस्टरॉन आपके sperm निकलने से भी आपको फर्क नहीं पड़ेगा आपके टेस्टोस्टरॉन लेवल पर उतना , बिलकुल फर्क नहीं पड़ेगा और यह साइंस तो बहुत गलत दिया आप लोगों की 24 से 40 घंटे लगते हैं आपके टेस्टोस्टरॉन बनने में या आपके यह sperm बनाने मे, its take 74 days,  हमारी बॉडी को स्पर्म नया स्पर्म बनाने में  तो क्या 2:00 से 3:00 महीने  तक बीना sperm के body रहेगी ऐसा नहीं होता, बॉडी का अपना tank होता है, अपना स्टॉक होता है उसमें sperm  बहुत सारे होते हैं  हम दो-तीन महीने तक आराम से रह सकते हैं जब तक नया sperm ना  बन जाए और 24 -48  घंटे वाली science बकवास है क्योंकि जो लेवल को साइकिल में बनाते रहती है सुबह शाम दिन रात अलग अलग रेट है तो ऐसा नहीं है कि हमारी बॉडी का टेस्टोस्टरॉन बनाने में हमको 24 - 40 घंटे लगते हैं या ऐसा लगता है और बॉडी के अंदर तब तक बिल्कुल टेस्टोस्टरॉन  होता ऐसा नहीं होता स्टॉक हमारे पास ऑलवेज होता है स्पर्म का स्टॉक हमारे पास ऑलवेज होता हैबस उसको साइकिल में body बनाते रहती है प्रड्यूस करते रहती है अगर आप एक हाई टेस्टोस्टरॉन लेवल वाले male है तो आपको कभी कमी नहीं होगी और टेस्टोस्टरॉन का काम सिर्फ आपका स्पर्म काउंट बढ़ाना ही नहीं होता है बल्कि आपके लिबिडो सेक्स ड्राइव को भी मेंटेन रखना होता है आपका हार्ड ऑन भी होना चाहिए आपका इरेक्शन सही होना चाहिये ताकि आप देर तक सेक्स कर पाएं सेक्शन एक्टिविटी को परफॉर्म कर पाए इंजॉय कर पाएंगे  तो आप सोचते होंगे कि हमारी बॉडी इतनी थक क्यो जाती है हमारी  इतनी एनर्जी निकल क्यो जाती है बॉडी से उतनी weekness क्यो  आती है after sex या after मास्टरबेशन उसका रीजन यह है, उसके दो reason है पहला रीजन यह है कि हमारी बॉडी से हारमोंस हैप्पी और सेराटोनिन raise  होता है जो हमारी बॉडी को रिलैक्स करता है हम अच्छा फील करते हैं सोने का मन करता है और जो तीसरा जो इंपॉर्टेंट है हमारा
हार्मोन है जो बॉडी से निकलता है वह ऑक्सीटॉसिन, ऑक्सीटॉसिन ही ऐसा हार्मोन है जिसकी वजह से हम वीकनेस महसूस करते हैं नींद आती है हमें थकान सी महसूस होती है और रिलैक्स हम महसूस करते हैं . weakness महसुश करने का दूसरा सबसे बड़ा रीजन होता है जब आप  के सेक्स के बाद आपकी बॉडी से जो semen निकलता है उस टाइम पर semen के अंदर आपका zink आपकी बॉडी से एक सिग्निफिकेंट amount मे आपकी बॉडी  से zink निकलता है ना कि आपका टेस्टोस्टरॉन लेवल कम होता है आपको थकान महसूस होती है ऐसा लगता है कि एनर्जी पूरी निकल गई है बट यह हर टाइम तो नहीं होता है अगर आपकी डाइट सही है आप सही diet ले रहे हैं राइट फूड्स ले रहे हैं जैसे रेड मीट proteins, minerals, chicken , fish, etc अगर आप Nutrition अछा लेगे तो आपको उस की रिकवरी आपकी जल्दी हो जाएगी आपके जो zink लेवल होंगे आपकी बॉडी में हो जल्दी maintain हो जायेगा.
10 से 20 मिनट तक आपको वह रिलाइजेशन या  weakness रहेगी लेकिन आपकी रिकवरी जल्दी होगी,
औरअब हम समझते हैं हमारी दोनों कैटेगरी sex and masturbation कैसे affect  करेगा , दोनों कैटेगरी में, सबसे पहले हम बात करते हैं रेगुलर इंसान की अगर आप इंसान है वर्क आउट करते हैं या नहीं करते हैं तो और आपकी serious goals नहीं है muscles fat loss को लेकर तो आप से कहुगा कइ आप सेक्स करें जितना फ्रीकुंडली आप सेक्स करेंगे उतना आपका sexual ड्राइव बढ़ेगी, लिबिडो बढ़ेगा, टेस्टोस्टरॉन बूस्टर को हेल्प होगा,और आपके बॉडी में हैप्पी hormones जैसे up होंगे और release होंगे जिसकी वजह से आपकी बॉडी आपके सेंट्रल नर्वस सिस्टम को signal करेगी “specially” हैप्पी मैन हमें ऐसे इंसानों को और बनाना है तो आकर रिप्रोडक्शन प्रोसेस बढ़ाने के लिए आप ही बॉडी टेस्टोस्टरॉन लेवल को बढ़ाए
इसका असर ये होगा कि  आप काम पर ज्यादा ध्यान लगा पाएंगे ज्यादा मन लगेगा काम में आप खुश रहेंगे जिंदगी में 47 लेवल  आपका कम होगा स्ट्रेस हॉरमोन नीचे जाएगा टेस्टोस्टरॉन ऊपर आएगा win-win सिचुएशन पर यू have सेक्स फ्रिक्वेंटली वीक में कितनी बार आप कर सकते हैं अगर बीच में आप चार से पांच बार कर रहे हैं तो कोई प्रॉब्लम वाली बात नहीं है बशर्ते आपको यह जरूर ध्यान रखना होगा कि आपके Zink level और आपके ऑक्सीटॉसिन level maintain करना होगा उसको मेंटेन करने के लिए आपकी बॉडी को सही न्यूट्रेशन सही एक्सरसाइज टॉप क्वालिटी म्यूटेशन आपको देनी पड़ेगी और दूसरी बात यह कि अगर आप बीच में चार से पांच बार से ज्यादा कर रहे हैं 8 बार 10 बार 20 बार कर रहे हैं तो excess करना वैसे ही होगा जैसे कि अति का भला न बोलना अति की भली न चूप अति का भला न बरसना अति की भली न धूप be स्मार्ट जब आप  यह सब कर रहे हैं अपनी बॉडी का थोड़ा ध्यान रखना पड़ता है किसी भी चीज को ज्यादा करना ठीक नहीं होता है अब बात करते हैं हम जो लोग serious बॉडीबिल्डिंग कर रहे हैं जिनका बिल्डिंग और losses को लेकर सीरियस हैं तो उनको क्या फर्क पड़ेगा sex मास्टरबेट करने से एक नापतोल की एक्सरसाइज कर रहे हैं फुल calories ले रहे हैं तो why not  सेक्स क्योंकि इंसान और हमारे बीच में सिर्फ यही  डिफरेंस है कि हैप्पी man केयरफुल कि हम अपनी बॉडी में क्या डाल रहे हैं और बॉडी में क्या क्या कर रहे हैं हम अपनी muscles building और सारी चीज जो होती है बिल्डिंग एंड फैट लॉस तो हर चीज हम नापतोल के कर रहे हैं तो सेक्स भी हम नापतोल के करेंगे ना तो वर्कआउट और सेक्स के बीच में कम से कम आपका gap होना चाहिए 5 से 6 घंटे का so आपकी बॉडी से जो ज़िंक कम हुआ है जो आपका लेवल ड्रॉप हुआ है सेक्स के बाद उसको वापस मेंटेन कर पाए उसको लेवल में लेकर आएं ताकि आप एक्सरसाइज ढंग से कर सकें यह नहीं कि आप आधे घंटे पहले सेक्स करने


Masturbation effect on body?


के बाद फिर आप वर्कआउट करने जा रहे हैं सोच रहे कि जिम में सारा वेट उठा दूंगा तो आप गलत कर रहे है , muscles building  के साथ-साथ कर रहे है तो उसके साथ दो से तीन बार करना बहुत सही रहेगा अगर आप उससे ज्यादा बार करेंगे तो आपकी बॉडी पर स्ट्रेस पड़ेगा इसलिए और ज्यादा स्ट्रेस मत देने के लिए सही नहीं होता है और दूसरी बात यह कि अगर आप एक मसल बिल्डिंग के gaining phase में है  bulking phase मे है  तो इसी आप दो से तीन चार बार कर सके 5 बार कर सकते हैं क्योंकि आपकी बॉडी calories surplus मे है  आप ज्यादा calories consume कर रहे है ज्यादा कैलरी होने की वजह से आपका जो zink लेवल होगा ऑक्सीटॉसिन level होगा बॉडी उसको जल्दी रिकवर कर पाएगी जल्दी लेवल में लेकर आएगी अगर आप एक depreciation डाइट में ऑलरेडी कटिंग कर रहे हैं और वैसे ही कैलरी कम ले रहे हैं ज्यादा कैलरी burn कर रहे हैं तो इस सिचुएशन में आपकी बॉडी आप चाहकर भी इतने बार सेक्स नहीं कर पाएंगे अगर आप करना भी चाहते हैं तो क्यों की बात यह नहीं है कि आपकी बॉडी में स्पर्म अवेलेबल नहीं होगा इजैक्लेशन नहीं होगा बात यह कि आपका लिबिडो लो होगा आपकी सेक्शड्राइव कम होगी टेस्टोस्टरॉन लेवल थोड़ा कम होगा यह बहुत ही नार्मल है तो ऐसा इसमें डरने वाली बात नहीं कि हम कटिंग कर रहे तुम्हारा टेस्टोस्टरॉन लेवल drop हो गया लिबिडो कम है सेक्स लाइफ काम है मेरा हमारा हार्ड ऑन नहीं हो रहा इलेक्शन its all normal इसीलिए मैं हमेशा कहता हूं कि जितना कम आपका कटिंग पीरियड होगा कटिंग फीस होगा उतना अच्छा है आपकी बॉडी के लिए और क्यों की उतनी ही कम टाइम तक आपको calories depreciation में रहना पड़ेगा उतना ही कम stress आपकी बॉडी में पड़ेगा.
Conclusion
यह है कि  जितना आप सेक्स frequently करेंगे जितनी आपकी अच्छी सेक्स लाइफ होगी उतना ही आपका टेस्टोस्टरॉन लेवल हाई होगा, boost your टेस्टोस्टरॉन ना कि आपका टेस्टोस्टरॉन ड्रॉप होगा आपको यह ध्यान रखें कि आपकी सेक्स और आपकी वर्कआउट में कम से कम पांच 6 घंटे का डिफरेंस हो ताकि आप रिकवर कर पाए जो आपका zink और oxy लेवल drop हुआ है.
दूसरी बात है कि आपकी बॉडी को एक टॉप क्वालिटी न्यूटेशन आपको देनी होगी यानी कि आप दुनिया भर का सेक्स कर रहे हैं और बॉडी में nutrition low ले रहे है यानि कि बिल्कुल कम तो ये आपके  muscles building के लिये तो दूर कि बात हुयी आप survive  भी नही कर पयेगे इसिलिये muscles building के लिये आप को proper nutrition लेना होगा और sex भी gap करके करना होगा

Post a Comment

If you have any dought please let me know

Previous Post Next Post
close